ट्रेन में स्कूल गर्ल

आज जो मैं antarvasna सुनने जेया रहा हू वो रियल इन्सिडेंट अभी हाल ही की है जब मैं देल्ही के लिए जा रहा था.मैने अपना टिकेट एक्सप्रेस गाड़ी के थर्ड एसी मैं बुक करवाया था. जब भी मैं ट्रेन से ट्रेवल करता हूँ तो मुझे हमेशा एक उम्मीद होती है कि मेरे पास किसी मस्त लड़की की सीट हो. उस दिन मेरी किस्मत खुल ही गयी. एक मस्त train hindi sex story पढ़िए..

मैं जैसे ही स्टेशन पर पहुँचा मेरी नज़र लड़कियो को ताड़ने लगी . मैने एक लड़की को देखा जो की रेड टाइट टी-शर्ट और ब्लू जीन्स पहन रखी थी, यार क्या फिगर था यार मस्त माल थी .उसकी बूब्स एक दम नोकिले और टाइट लग रहे थे और उसकी गाँड मस्त थी . मैं काफ़ी देर तक उसे देखता रहा . इससके साथ साथ और लड़कियो को भी देख रा था. इतने मैं ट्रेन आ गई.मैं ट्रेन मैं चढ़ा और अपनी सीट लगा. मेरा बर्थ अप्पर सीट पर था.जहा मेरा सीट था उसके नीचे वाले बर्थ पर एक फॅमिली जा रही थी, उस फॅमिली मैं दादा, दादी ,मदर दो बचे और एक मस्त फिगर वाली एक लड़की थी जिसके आगे 18 साल होगी . मैं जैसे ही उसे देखा तो उसे ताड़ने लगा, उसके मुममे बाहर की तरफ उभरे हुए थे, होंठ मस्त और उसकी गाँड फूली हुई. उसने एक टी-शर्ट और स्कर्ट पहना था जिसमे उसके मस्त और मांसल टांगे दिखाई दे रही थी. मैने सोचा की अभी बची है और साथ मैं फॅमिली है तो कुछ कर भी नही सकता था .

खैर मैं अपने बर्थ के उपर चला गया और ट्रेन चल पड़ी. उस फॅमिली से कुछ कुछ बात भी हो रही थी लेकिन मेरी नज़र तो उस लड़की पर थी जो अपने दोनो भाइयो के साथ खेल और बात कर रही थी और कभी कभी मुझे भी देख रही थी . मैं अप्पर बर्थ पर था तो मैं नीचे कभी कभी देख रहा था और उस लड़की के चुचियो का मज़्ज़ा ले रहा था और अपने लॅंड को दबा रहा था.इसी तरह एक डेढ़ घंटा बीत गया .

मैं अपने साथ कोल्डद्रिंक मैं वोड्का मिक्स कर के लाया था सो मैने धीरे धीरे लेने लगा.और अपना लॅपटॉप खोल कर कुछ वीडियो सॉंग लगा दिया.

एक डेढ़ घंटा इसी तरह चलता रहा. अब मुझे वोड्का का नशा होने लगा था और नीचे फॅमिली सोने की तैयारी करने लगे. मैने देखा की वो लड़की सोने के लिए मेरे सामने वेल अप्पर बर्थ पर आ गई .मैं वीडियो देखने मैं बिज़ी था .मैने देखा की वो मेरी तरफ लेट कर और वीडियो देखने की कोशिश कर रही है तो मैने लॅपटॉप का स्क्रीन थोड़ा उसके तरफ कर दिया और मैं बाकी का बचा वोड्का पीने लगा.

नीचे सभी फॅमिली के लोग सो गई थे सीर्ट मेरे सामने वाले बर्थ की लड़की जाग रही थी .मैने इशारे से पूछा की वीडियो दिखाई दे रहा है तो उसने भी इशारे मैं हा कहा . अब मैने सेक्सी सॉंग्स लगा दिया . पूरी बोगी सो चुकी थी और चारो तरफ अंधेरा ही अंधेरा था. सेक्सी वीडियो देखने से मेरा तो लॅंड खड़ा हो गया था और मैं हाथ से दबा दबा कर उसे शांत कर रहा था.

READ  चुदवाकर रिश्ता ख़त्म कर दिया

अब मुझे वो लड़की माल दिखने लगी थी , मैने सोचा की क्यो ना इसी के साथ कुछ मज़्ज़ा किया जाए.सो मैं ईक उपाय सोचा मैने देखा की लड़की बड़े गौर से अभी भी वीडियो देख रही थी , मैने
चारो तरफ का ज़ेयज़ा लिया की सब सो गये है की नही मैने पाया की सभी सो गई है तो मैने अपना लॅपटॉप थोड़ा सा अपनी तरफ कर लिया ताकि उस लड़की को सही से दिखाई ना दे .

ऐसा करने पर मैने देखा की वो थोड़ा इधर उधर हो कर देखने की कोशिश कर रही है तो मैने और लॅपटॉप को अपनी तरफ कर लिया और ऐसा जाहिर किया की मुझे लॅपटॉप रखने मैं तकलीफ़ हो रही है .मैने धीरे से उस लड़की से बोला की कुछ देर के लिए तुम लॅपटॉप को पाकड़ो तो उसने हा मैं सर हिलाया और मैने लॅपटॉप उसे दे दिया . कुछ देर ऐसे ही चलता रहा . मैने देखा की उसी भी अब दिकाट हो रही थी तो मैने उसे धीरे से कहा की वो मेरे बर्थ पर आ जाए और लॅपटॉप को अपने बर्थ पर रख दे ताकि हम दोनो देख सके तो इश्स पर उसने थोड़े देर सोचा और फिर नीचे देखा की सभी सो रहे है की नही.

फिर वो मेरे बर्थ पर आ गई और मैने कंबल उसे से ढक दिया हम और वो ऐसे सोए थे की उसकी गाँड मेरे तरफ थी.मुझे तो अब मज़्ज़ा आ गया था , मैने सोचा आज इसके मस्त मुलायम गाँड को सहला सहला कर मज़्ज़ा लूँगा , फिर हम दोनो वीडियो देखने लगे एक ही बर्थ पर होने की वजह से वो मुजसे एक दम चिपकी हुई थी

शानदार माल थी वो..

मैने धीरे से उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम दामिनी बताया . उसके गाँड की गर्मी से मेरा लॅंड टाइट हो गया था मैने उसे थोड़ा अर्जेस्ट करने के लिए बोला तो वो और मेरे लंड से चिपक गई ,मुझे तो मज़्ज़ा आ रहा था . मैने अपना हाथ से अपने लंड अर्जेस्ट कर के ठीक उसके गाँड के सामने फिट किया और अपना एक हाथ उसके गाँड पर रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा , ट्रेन के हिलने की वजह से हम भी आगे पीछे हो रहे थे और मैने इसका पूरा फायदा उठाते हुए उसके गाँड मैं अपना लंड को रगड़ रहा था , अब मुझे बर्दाश नही हो रहा था सो मैने उसके स्कर्ट को ऐसे उठाया जैसे लगे की मैं कंबल अर्जेस्ट कर रहा हू और मैने उसके स्कर्ट को उसके कमर तक कर दिया और अपना हाथ उसस्के जाँघ पर रख कर धीरे धीरे सहलाने लगा मैं अब उसके पनटी तक पहुँढ गया था,

READ  बहन को जाल में फंसाकर चोदा

मैने पाया की वो थोड़ा कभी आगे जाती तो कभी पीछे मुझे तो बहुत मज़्ज़ा आ रा था . लड़की अभी भी वीडियो देख रही थी.मैने एक हाथ से अपने जीन्स का बटन खोल के और लंड को निकल कर उसके गाँड से सटा दिया और मज़्ज़ा लेने लगा.

मेरे लंड और उसके गाँड के छेद के बीच उसकी पनटी थी फिर भी मुझे उस मुलायम गाँड को लंड से रगड़ने मैं बहुत मज़्ज़ा आ रहा था , मैने पाया की वो अपना गाँड मेरे लंड पर दबा रही थी तब मैने सोचा की क्यो ना और आगे का प्रोग्राम किया जाए तो मैने धीरे से अपना हाथ को उसस्के बूब्स पर रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा बहुत ही टाइट बूब्स थे साली के मैने धीरे धीरे उसे मसालने लगा . अब मैने पाया की लड़की भी थोड़ी गरम हो रही थी मैने उसके गालो पर भी किस करना चालू कर दिया,

मैने धीरे से दामिनी से पूछा की मज़्ज़ा आ रहा है . उसने धीरे से हा कहा .मैने खुश हो गया की लोंड़िया पाट गई है अब मैने धीरे धीरे अपना हाथ उसके स्कर्ट मैं ले जाकर मैने अपना हाथ उसस्के चूत पर ले गया ,हल्का हल्का बाल मैने महसूस किया और मैं ओसे रगड़ने लगा, मुझे तो बड़ा मज़्ज़ा आ रहा.मैने एक उंगली उसके चूत मैं डाल के थोड़ा अंदर बाहर करने लगा वो मज़े से आगे पीछे होने लगी मैं समझ गया की साली ये अब चुदने के लिए तैयार है तो मैने अपना हाथ उसस्के पनटी से निकल कर और उसके पनटी को धीरे धीरे निकल दिया और उससे बोला की अपना स्कर्ट को थोड़ा उपर करे तो उसने अपना स्कर्ट पूरा उपर कर लिया , मैने भी अपना बरमूडा को निकल दिया , अब हम लोग कमर से नीचे पूरे नंगे थे ,

मैने अपना लंड को उसके गाँड के छेड़ पर फिट कर के रगड़ने लगा और एक हाथ से उसके चिकने जाँघो और चूत को सहलाने रहा था, बड़ा मज़्ज़ा आ रहा था उसके नाज़ुक गाँड से खेलने मैं . मैने अपना लंड अब ज़ोर ज़ोर से उसके गाँड मैं रगड़ने लगा और आँखे बंद कर के उसके गालो को चूसने लगा इधर दामिनी सीईईई सीईइ आवाज़ निकल रही थी .डूस मिनिट ऐसा करने के बाद मेरा पानी चूत गया और उसके गाँड पर गिर गया, मैने झट से रुमाल निकल कर उसके गाँड को पोछा और उससे पूछा की मज़्ज़ा आया मेरी जान तो उसने कहा हा बहुत मज़्ज़ा आया.

मैने नीचे देखा तो सभी लोग सो रहे थे ट्रेन पूरे रॅफटर मैं चल रही थी . मैने अब लॅपटॉप को बंद कर दिया और दामिनी से बाते करने लगा की कहा रहती है और किस क्लास मैं पढ़ती है तो उसने बताया की वो देल्ही मैं रहती है और आई टी की स्टूडेंट है. मैने सोचा की क्या मस्त माल का आज मैने मज़्ज़ा लिया वो भी एक स्कूल की लड़की का. ऐसा करते करते मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा .मैने उससे कहा की वो मेरा लंड को पकड़ कर हिलाए और अपने गाँड से रागति रहे वो ऐसा ही करने लगी
और मैं एक हाथ से उसके चूत और दूसरे हाथ से उसके बूब्स दबाने लगा.

READ  राखी बहन ने चोदना सिखाया

बड़ा मज़्ज़ा आ रहा था मैं ईक उंगली धीरे से उसके चूत मैं डाला , आगे पीछे करने लगा इश्स पर दामिनी आ आ अ ह ह करने लगी मैने उससे कहा की धीरे धीरे आवाज़ निकालो नही तो सब जाग जाएँगे तो उसने वही किया. मेरा मूड एक दम पागल हो गाया था मैने उसके पैर को थोड़ा फैलाया ताकि उसकी चूत थोड़ा पीछे हो जाए और मैने थोड़ा सा थूक लेकर थोड़े अपने लंड पर और थोड़ा उसके चूत पर लगाया और अपने लंड को उसके चूत पर रगड़ने लगा ,उसकी चूत इतनी मुलायम थी के मुझे ऐसा लग रहा था की मेरा पानी निकल जाएगा लेकिन मैने सायं से कम लिया और उससे बोला की उससे थोड़ा दर्द होगा चीखना मत बाद मैं बड़ा मज़्ज़ा आएगा तो उससने हूँ कहा .

मेरे लंड का सुपाड़ा फूलकर लाल हो रहा था जैसे मोटा टमाटर हो, मेरा लंड इतना टाइट हो गया था की किसी पथर जैसे सख़्त हो गया था

मैने अपने लंड का टोपा को उसके चूत पर फिट कर के धीरे धीरे अपने लंड को माखन जैसी कुवारि चूत मैं पेलने लगा लेकिन मेरा लंड थोड़ा जाकर और फिसल जा रा था,मैने तुरंत थोड़ा थूक लंड पर लगाया और चूत मैं अपना लंड थोड़ा ज़ोर से पेला इस बार मेरा लॅंड थोड़ा अंदर गुस गया मुझे भी मेरे लंड पर थोड़ा दर्द महसूस हुआ

इधर दामिनी ओह ओह आआईयईईईईईईईई करने लगी मैने उसके गालो पर किस कर के उससे शांत करने की कोशिश करने लगा लेकिन वो मेरे मोटे लंड को झेल नही पा रही थी उसने अपना पैर थोड़ा इधर उधर करने लगी और मेरा लंड अपने चूत से खिच कर निकल दिया. मैने पूछा की क्या हुआ तो वो बोली की बहुत दर्द कर रहा है ,मैं उसस्के गाँड पर लंड रगड़ने लगा और उसस्के गालो पर किस करने लगा ताकि वो शांत हो जाए,

10-15 मिनिट मैं उसके गालो पर किस करता रहा तब जाके वो संत हुई ,मैने दो तीन बार लंड को गूसने की कोशिश की लेकिन मेरा लंड थोड़ा ही गुस्स पा रहा था ,मैने सोचा काफ़ी टाइट चूत है
साली की किसी और टाइम इससे चोदुन्गा क्योकि ज़बरदस्ती करने पर वो चिल्ला देती और हम लोग पकड़े जाते सो मैने उससे धीरे धीरे छोड़ते छोड़ते अपना पानी उसके गाँड पर गिरा दिया.ये सब करते करते काफ़ी देर हो चक्का था और मैं भी थक चुका था सो मैने लास्ट टाइम उसस्के होंठो पर जबरदस्त किस किया और उससे अपने बेड पर जाने के लिए बोला और इस बीच मैने उसका मोबाइल नंबर और घर/ स्कूल का पता ले लिया…

Antarvasna Hindi Sex Stories © 2016