मेडम की चूत और गांड चोदी

हैल्लो दोस्तों, आप antarvasna सभी लोगों को विवेक का प्यार भरा नमस्कार। दोस्तों मैं आज आप सभी को अपनी एक सच्ची घटना को बताने के लिए आप लोगों के बीच में कामलीला डॉट कॉम के माध्यम से आया हूँ क्योंकि दोस्तों आप सभी की तरह मैं भी पिछले कुछ समय से कामलीला डॉट कॉम की कहानियों को पढ़कर उनके मज़े लेता आ रहा हूँ और आज अपनी घटना सुनाना चाहता हूँ। यह कहानी मेरी और मेरी कोचिंग की मेडम के बीच हुई जर्बदस्त चुदाई की है जिस चुदाई के रिश्ते को मैं आज भी निभाता आ रहा हूँ।

दोस्तों यह कहानी आज से 4 साल पहले की है जब मैं 20 साल का था और वो 28 साल की थी और मेरी मेडम दिखने में ठीक ठाक थी एकदम मस्त, हर कोई लड़का उसका दीवाना था जिसमें मैं भी एक था। मेडम जब कोई बात समझाने के लिये झुकती थी तो उसके बूब्स देखकर लंड महाराज खड़े हो जाते थे, और शाम को जब भी मैं कोचिंग पढ़कर आता तो उनके नाम की मुठ मार देता था मेरे मन में उनकी चूत को चोदने की हवस बढती चली जा रही थी लेकिन मुझे डर भी था की अगर मैंने अपनी तरफ से कुछ भी किया तो उन्हें बुरा लगेगा और वो मेरी मम्मी से ना कह दे इसलिये मैं उनके गोरे रंग और ब्लाउज में से आधे निकलते हुए बूब्स को देखकर ही खुश हो जाता और देखते देखते ही एक दिन ऐसा भी आया जब मेरा टेस्ट था अगले दिन, और मुझे कुछ आता भी नहीं था और आता भी कैसे सारा ध्यान तो उसके ही बाथरूम में उसके कपड़ो को देखकर मुठ मारने में रहता था उसकी वो प्यारी सी ब्रा कभी पिंक तो कभी ब्लैक, लेकिन वो दिन आया जिसका मुझे बेसब्री से इंतज़ार था वो आ गया उन्होंने मुझे शाम को 7 बजे बुलाया और सिर्फ़ मुझे, जब उनका पति घर पर नहीं था जब मैं वहाँ पहुँचा तो उन्होंने रेड कलर की मैक्सी पहनी हुई थी और वो भी आधी पैरों तक, मुझे तो ऐसे ही मौका की तलाश थी फिर उन्होंने मुझे अपने पास बैठा लिया और उनके बूब्स चींख चींखकर कह रहे थे मुझे चूस ले, मुझे मैक्सी में से उनकी ब्रा भी साफ दिख रही थी और इतना करीब बैठा लिया था की मेरे को तो पसीना आने लगा वो देखकर मेडम घबरा गयी और कहने लगी मैं पानी लेकर आती हूँ जब वो पानी लेने गई तो मैं सोचने लगा की आज तो कुछ करना ही पड़ेगा अब कंट्रोल नहीं हो पा रहा है फिर मेरे दिमाग़ में एक आइडिया आया जब वो पानी लेकर आई तो मैंने पानी का ग्लास उनके बूब्स पर गिरा दिया और अपने हाथों से साफ करने का नाटक करने लगा वो समझ तो गयी थी फिर मैंने देखा उनके चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कान थी मैं भी समझ गया वो भी तैयार है इस आग में जलने के लिये, फिर मैंने उनके गोरे गोरे गालो पर हाथ फैरते हुए उनकी तारीफ करने लगा की मेडम आपसे सुन्दर इस दुनिया में कोई नहीं है मैं आपके इन लाल लाल होठों का दीवाना हूँ और मेडम शरमाती गई फिर मैंने उन्हें चूमना शुरु कर दिया पहले उनके गालो को आराम से चूमा फिर पूरा, फिर उनके सेक्सी होंठों को अपनी जीभ में दबाकर चूसने लगा फिर तो मेडम की पुरानी जवानी जैसे वापिस आ गई हो मुझे उन्होंने उसी सोफे पर लिटाकर के मुझे कस कसकर चूमने लगी यह सब तकरीबन 1० मिनट तक चला।

READ  गाँव का हरामी साहूकार – लालाजी 10

फिर मैंने उनसे उनकी मैक्सी उतारने को कहा तब वो मुझे धक्का मारकर के उठने की कोशिश करने लगी तो मैंने पूछा क्या हुआ? तो मेडम बोली ये सब ग़लत है हमें यही पर रुक जाना चाहिए अभी तुम छोटे हो, मेडम ने हँसकर बोला, फिर मैंने मेडम से बोला मैं छोटा हूँ मेरा छोटा नहीं है पूरा मजा दूँगा आपको, तब तक मैं काफ़ी खुल गया था फिर मैंने उन्हें अपनी तरफ खींचा और उनकी मैक्सी उतार दी और उन्हें एक झलक आराम से देखने लगा मेरा सपना सच हो गया था वो शरमाती हुई ब्रा और पेंटी में कयामत लग रही थी बस फिर तो मेडम ने खुद ही अपनी ब्रा खोली और मेरा मुहँ लेकर अपने बड़े बड़े बूब्स पर रख दिया फिर मैं उनके उन दोनों बूब्स के साथ खेलने लगा कभी उनके निप्पल अपने दातों से दबा रहा था तो कभी उनको चूस चूसकर के उनका बुरा हाल कर रहा था जिससे उनके बूब्स पूरी तरह से लाल पड़ गये थे फिर उन्होंने मेरे कपड़े उतारे और मेरे लंड को देखकर बोली कास मेरा पति भी मुझे रोज़ ऐसे ही चोदते तो मैं बोला अरे मेडम हम है तो क्या गम है। फिर मैंने उनकी पेंटी उतारी उनकी छोटी सी चूत से चिपकी पेंटी अफफ़ मेरा तो बुरा हाल हो गया उसको देखकर, उनकी इतनी छोटी सी चूत थी मज़ा आ गया मैंने अपना लंड जो की 6.5 इंच का था उनकी छोटी सी चूत में हल्के हल्के से घुसाना शुरू कर दिया मेरा लंड अभी आधा भी नहीं गया था की उनकी आवाजे आने शुरू हो गयी। उनको बहुत मज़ा आ रहा है और उधर उनकी आखों में से आसूं भी आने लगे थे।

READ  बेटे ने माँ के साथ सुहागरात मनाइ

मैं और तेज तेज़ झटके देने लगा मैंने उनकी दोनों टाँगे अपने कंधे पर रखी और ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा वो और तेज चिल्लाने लगी आहह… ओह… नोंओं… और तेज और तेज और बोलने लगी ऐसा मज़ा तो मेरा पति भी नहीं दे पाता वाह क्या बात है छोटा है मगर जोश भरा पड़ा है चोदने का, फिर तकरीबन आधे घंटे के बाद मैं रुक गया लेकिन हम दोनों की प्यास अभी बुझी नहीं थी। मेडम उठकर मेरे लंड को पकड़कर के सहलाने लगी उनका मन मेरे लंड को मुहँ में लेना का था वो बोली मैं तुम्हें जल्दी से खाली करना चाहती हूँ फिर उन्होंने मेरे दोनों हाथ अपनी मैक्सी से बांध दिए और मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया अफफ़ उस समय मेरी हालत देखने लायक हो गयी मेरे पूरे शरीर में अजीब सी बिजली दोड़ने लगी वो मेरे लंड को बड़े चाव से अच्छे से चूस रही थी जैसे जन्मो की प्यासी हो और सिर्फ़ मेरे लंड को ही चूसने के लिये पैदा हुई हो। उनके प्यारे से होंठ मेरे लंड के टोपे को छू रहे थे मेरा लंड इतना तन गया था की वो उसको देखकर हैरान हो गयी और बोली ये दिन मैं कभी नहीं भूल पाउंगी और फिर से अपने मुहँ को खोलकर लंड चूसना शुरू कर दिया पूरे 20 मिनट तक यही चला वो अलग अलग तरीके से मेरे लंड को आराम दे रही थी। फिर उन्होंने मुझे खोला और डॉगी की स्टाइल में बैठ गयी फिर मैंने पहले तो उनकी चूत को अच्छे से चूस चूसकर चाटा जिससे उनके शरीर में एक अजीब सी सिरहन दोड़ रही थी जिससे की उनकी चूत से पानी बहने लगा और वो आहह… ओहोह… मज़ा आ रहा है कहने लगी और करो प्लीज़ और करो, फिर मैंने उनकी गांड में अपना लंड झटके से डाल दिया उनकी आवाज़ अगले घर तक पहुँचने को तैयार हो गयी वो बहुत ही जोर से चिल्लाई आआ ओही… माँ… मर गयी वो मुझसे अपनी गांड में लंड डालने के लिये मना करने लगी लेकिन मैं नहीं माना मैं लगा रहा मैंने उनके बाल पकड़ रखे थे इससे ज्यादा मज़ा मुझे पहले कभी नहीं आया मुझे लग रहा था की इससे अच्छी फीलिंग तो मुझे पूरी दुनिया में नहीं मिल सकती और उन्हें भी मज़ा आने लगा फिर वो कहने लगी और तेज डियर और तेज, मैंने उनकी गाड़ तकरीबन आधे घंटे तक मारी और मैंने उनकी गांड में ही अपने लंड का पानी डाल दिया दोस्तों उनकी गांड में जब मेरा पानी निकला तो धीरे धीरे से निकला और मैं उनकी गांड के ऊपर ही निढाल होकर गिर गया फिर मैंने उन्हें पलटा और देखा तो उनकी गाड़ और चूत लाल पड़ गयी थी और गांड के अंदर से मेरा वीर्य निकल रहा था और चूत पूरी सूझ गयी थी वो पूरी तरह से संतुष्ट दिखाई दे रही थी लेकिन पता नहीं क्यू मेरा मन नहीं भर रहा था मैंने मेडम को पकड़ा और फिर से चूमने लगा मैं उनके हर एक अंग को महसूस करना चाहता था और मैं कर भी रहा था। उसके बाद मैंने मेडम की दो बार और चूत मारी ऐसे ही मैंने मेडम को 2 साल तक खूब अच्छे से चोदा।

READ  राज और उसकी बीवी के साथ चुदाई

धन्यवाद…

Antarvasna Hindi Sex Stories © 2016