दोस्त की बाजू वाली कुंवारी जवान

हैल्लो दोस्तों, मेरा antarvasna नाम जावेद है और मेरी उम्र अभी 28 साल है मैं एम.पी. के एक छोटे से शहर का रहने वाला हूँ और मेरी शादी हो चुकी है। आज मैं आप सभी कामलीला डॉट कॉम की कहानियाँ को पढ़ने वालों के लिए अपनी एक सच्ची कहानी और मेरा पहला सेक्स अनुभव लेकर आया हूँ जिसमें मैंने अपने ही दोस्त की बाजू वाली कुंवारी जवान छोरी को चोदा था, और उसको मेरे लंड के खूब मज़े करवाए और मैंने उसकी चूत के खूब मज़े लुटे थे अब कैसे लुटे थे वो आप सब कहानी पढ़कर एन्जॉय करे।

दोस्तों बात आज से 8 साल पहले की है जो की मैं मेरे दिल में दबाये हुए बैठा हूँ अब मैंने सोचा की क्यूँ ना इस कहानी को लिखकर अपने दिल का बोझ हल्का कर लूँ। दोस्तों जब मेरा एक प्यारा सा दोस्त था जिसके घर पर मैं जाता था पढ़ने के लिए, उसके बाजू में एक बहुत ही सुंदर सी लड़की रहती थी, जो की बहुत ही गोरी थी उसके बूब्स भी बड़े थे, और गांड तो पूछो ही मत एकदम गरम माल लगती थी और दोस्तों चाल ऐसी की देखते ही छोरे अपने लंड से पानी छोड़ दे। उसका नाम तो मैं आपको बताना ही भूल गया दोस्तों उसका नाम करुणा था और वह उस समय करीब 18 साल की होगी जिसे देखकर मैं जीने लगा था। मैं जब भी अपने दोस्त के घर जाता था मुझे हमेंशा वो दिखती थी और मुझे अपनी आँखों से तीखे इशारे करती रहती थी जिसे देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता था वो भी कभी कभी मेरे दोस्त के घर आती थी और हमेंशा मेरे पास ही आकर खड़ी होती थी जब भी पास आती थी हमेंशा मेरा लंड खड़ा हो जाता था हर बार मन में उसको चोदने के ख्याल आते रहते थे एक दिन उसकी माँ घर पर नहीं थी तो वो मेरे दोस्त के घर पर आई थी उसकी छोटी बहन के साथ हम चारों मिलकर एक फ़िल्म देख रहे थे फ़िल्म भी एकदम रोमांटिक थी उसमें बहुत सारे सेक्स सीन्स थे उस समय मेरे दोस्त के घर पर भी कोई नहीं था सिर्फ़ हम चार थे तो हम फ़िल्म देख रहे थे वो मेरे पास बैठी थी और उसकी बहन मेरे दोस्त के साथ, जब भी सेक्स सीन आ रहा था मेरा लंड खड़ा हो रहा था वो धीरे धीरे मेरे पास आ रही थी उसे एक बार महसूस हुआ की मेरा लंड खड़ा है तो उसने मुझे एक नॉटी स्माइल दी फिल्म खत्म होने के बाद हम लोगों ने खाना खाया फिर मेरा दोस्त और उसकी बहन बाहर वाले कमरे में चले गये थे और हम दोनों अंदर बेडरूम में थे हम दोनों दूसरी हॉट फ़िल्म देख रहे थे इस बार वो मेरे लैपटॉप में बैठकर फ़िल्म देख रही थी मैं तोड़ा नर्वस था इस फ़िल्म में जब फर्स्ट टाइम सेक्स सीन आया तो वापिस से मेरा लंड खड़ा हो गया इस बार उसने महसूस किया वो उठी और जाकर दरवाजा बंद कर दिया मैं हैरान हो गया वो भी अपने आपको बहुत गरम महसूस कर रही थी फिर उसने दरवाजे की कुण्डी लगा दी और मेरे बाजू में आ गयी और एक नॉटी स्माइल देकर मुझे किस करना शुरु कर दिया मैं भी उसे किस करने लगा ऐसे ही 10 मिनट तक हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे। फिर मैं धीरे धीरे उसके बूब्स पर आया और किस करने लगा जिससे वो और भी गरम होने लगी फिर मैंने उसका टॉप उतारा और ब्रा भी उतार दी माँ कसम क्या बूब्स थे गोरे गोरे से और बीच में एक भूरे कलर की निप्पल जिसे देखते ही मेरे मुहँ में पानी आने लगा और मैं अपनी जीभ अपने होठों पर फैरने लगा फिर जीभ अपने मुहँ से बाहर निकालकर मैं उसके बूब्स को चूसने लगा। मैं एक बूब्स को चूस रहा था और दूसरे को दबा रहा था वो मोन करने लगी तभी मेरा दोस्त को समझ गया था की अंदर हम दोनों चालू हो गये है तो वो उसकी बहन को लेकर बाहर चला गया।

READ  गंगा घाट पर माँ बेटी का जलवा

फिर उसने भी मेरी टी-शर्ट उतार दी फिर मैं उसकी नाभी में किस करने लगा वो और ज़ोर से मोन कर रही थी फिर मैंने उसकी जींस उतार दी उसने पिंक कलर की पेंटी पहनी थी मैंने उसे भी उतार दिया, उसकी एकदम बिना बालों वाली चूत को देखकर मैं और हैरान हो गया जो की पूरी गीली हो चुकी थी और थोड़े थोड़े पानी के बुलबुले अपनी चूत से छोड़ रही थी, फिर मैंने उसकी चूत के दोनों होठों को खोला और अपने होंठ उसपर रख दिये जिससे वो एकदम से उछल पड़ी फिर उसे भी मज़ा आने लगा फिर मैंने अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटने लगा वो अया… आहह… करके चींख रही थी उसे बहुत मज़ा आ रहा था और मैं भी उसकी चूत पर अपनी जीभ अंदर बाहर कर रहा था इतने में ही उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया जिसे मैंने चाटकर साफ कर दिया था फिर उसने मेरी पेंट उतार दी और मेरी अंडरवियर से ही मेरा खड़ा लंड देखकर उसके चेहरे पर चमक आ गई फिर उसने मेरी अंडरवियर भी उतार दी मेरा 6 इंच का लंड देखकर उससे रहा नहीं गया और वो मेरा लंड पकड़कर अपने मुहँ में लेकर चूसने लगी। क्या चूस रही एकदम लोलीपॉप की तरह जिससे मैं तो सातवे आसमान पर था, मानो की मैं जन्नत में था, ऐसे ही 10 मिनट तक वो मेरे लंड को अपने मुहँ में अंदर बाहर करती रही जिससे मेरे लंड ने भी कुछ ही देर बाद अपना पानी छोड़ दिया जिसे उसने अपनी जीभ से चाटकर थूक दिया। फिर हम दोनों बेड पर लेट गये और एक दूसरे को किस कर रहे थे बहुत मज़ा आ रहा था फिर थोड़े देर बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हुआ इस बार उसने देर नहीं की और मुझसे भी रहा नहीं जा रहा था तो मैं उसके ऊपर आ गया और धीरे से अपना लंड उसकी चूत में घुसाने लगा वो ज़ोर से चिल्लाने लगी थी आआहह… ये आवाज़ सुनकर मैं भी मस्ती में था फिर मैंने धीरे धीरे अपना 6 इंच का लंड उसकी चूत में पूरी तरह से डाल दिया था अब धीरे धीरे मैं अपनी स्पीड बड़ाने लगा जिससे उसे भी मज़ा आ रहा था। दोस्तों यह सेक्स स्टोरी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

READ  पूनम की सील मजे से तोड़ी

पूरे आधे घंटे तक मैं उसको जमकर चोदता रहा अलग अलग पोज़िशन में, लेकिन उसे डॉगी स्टाइल में चुदवाने में बहुत मज़ा आ रहा था उसके बाद मैंने पीछे से ही उसकी चूत के अंदर ही अपना माल झाड़ दिया था वो मेरा लंड पकड़कर फिर से चूसने लगी थी हम दोनों का सेक्स का मूड अभी भी बना हुआ था थोड़े देर बाद फिर से मेरा लंड खड़ा हो गया वापिस से उसको चोदने के लिये और होगा भी क्यों नहीं पहला पहला चोदने का जोश था, उसका तो मूड ही नहीं उतार रहा था मेरा भी सपना मानो सच हो गया था इतनी सेक्सी लड़की को पहली बार चोदा था बहुत मज़ा आ रहा था। इस बार चुदाई थोड़े ज़्यादा देर तक चली फिर मैंने उसके बूब्स पर अपने लंड का पानी झाड़ दिया। दोनों बेड पर लेटे हुए थे एक दूसरे को किस कर रहे थे उसने मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ रखा था और मैं उसकी गीली चूत के अंदर ऊँगली कर रहा था कभी मैं उसकी गांड के ऊपर हाथ घुमाता तो कभी उसके होठों को किस करता। फिर हम दोनों नहाने के लिए बाथरूम में गये वहां पर भी मैंने उसको जबरदस्त तरीके से चोदा फिरहम दोनों नहाकर बाहर आए उसने भी अपने कपड़े पहने और मैंने भी, थोड़े देर बार मेरा दोस्त वापिस आया और हम सबने शाम का नाश्ता किया फिर उसकी मम्मी आ गयी और वो अपनी बहन को लेकर अपने घर पर चली गयी उसके बाद मैंने बहुत बार उसको चोदा, कभी मेरे घर पर तो कभी उसके घर पर।

READ  पड़ोसन की बेटी ने मजा दिया

धन्यवाद कामलीला डॉट कॉम के प्यारे पाठकों !!

Antarvasna Hindi Sex Stories © 2016